रूसी संघ में प्रवेश के लिए सभी विदेशी नागरिकों को रूसी वीजा प्राप्त करना होगा, सिवाय इसके कि अंतर्राष्ट्रीय समझौतों के आधार पर अन्यथा निर्धारित किया गया हो.

वीजा रूसी संघ में प्रवेश करने से पहले प्राप्त किया जाना चाहिए.

वीजा विदेशी नागरिक के पासपोर्ट में सीधा जोड़ा जाता है और उसमे निम्नलिखित जानकारी शामिल है: उपनाम, प्रथम नाम (दोनों रूसी और लैटिन अक्षर में), जन्म तिथि, लिंग, नागरिकता (राष्ट्रीयता), दस्तावेज़ की संख्या, व्यक्तिगत पहचान, वीजा जारी करने की तारीख, रूसी संघ में रहने की दी अनुमति की अवधि, रूसी संघ में प्रवेश के लिए निमंत्रण या राज्य प्राधिकरण के रेसोलुशन की संख्या, वीजा की वैधता अवधि, यात्रा का उद्देश्य, निमंत्रण देने वाले संगठन (अथवा व्यक्ति) की जानकारी, वीजा द्वारा दी गई प्रविष्टियों की संख्या.

 

कृपया ध्यान दें:

कुछ विदेशी देशों के नागरिक (भारत के नागरिक नहीं) तभी रूसी वीजा जारी करने के लिए याचिका दायर कर सकते हैं यदि उनके पास भारत में निवास की अनुमति या लंबे समय का भारतीय वीजा है जिसके तहत वे 3 महीने से अधिक के लिए भारत में रहने के हकदार हैं

यदि आप भारत गणराज्य के नागरिक नहीं हैं, तो निम्नलिखित भी प्रस्तुत करना आवश्यक है:

 

  1. निम्नलिखित देशों के नागरिकों के लिए भारत में 90 दिनों से अधिक निरंतर रहने की अनुमति: अल्बानिया, ऑस्ट्रिया, बहरीन, बेल्जियम, बुल्गारिया, हंगरी, वेनेजुएला, हैती, मिस्र, ग्रीस, आयरलैंड, आइसलैंड, स्पेन, लेसोथो, लीबिया, लिथुआनिया, लक्समबर्ग, मैसेडोनिया, माली, मेक्सिको, न्यूजीलैंड, नॉर्वे, संयुक्त अरब अमीरात, ओमान (असाधारण मामलों में आवश्यक नहीं है), कोरिया गणराज्य, सऊदी अरब, स्लोवेनिया, यूनाइटेड किंगडम ऑफ ग्रेट ब्रिटेन और उत्तरी आयरलैंड, सिएरा लियोन, फिनलैंड, जर्मनी, क्रोएशिया, स्विटजरलैंड, इक्वेटोरियल गिनी, दक्षिण अफ्रीका गणराज्य, जापान.

निम्नलिखित देशों के नागरिकों को केवल मानवीय मामलों में, भारत में 90 दिनों से अधिक निरंतर रहने की अनुमति के बिना वीजा दिया जा सकता है :अल्बानिया, बेल्जियम, बुल्गारिया, हंगरी, ग्रीस, स्पेन, मैसिडोनिया, स्लोवेनिया, नॉर्वे, जर्मनी क्रोएशिया, स्विटजरलैंड, इक्वेटोरियल गिनी, एस्टोनिया.

राष्ट्रीय कानून पर निर्भर करते हुए भारत में 90 दिनों से अधिक निरंतर रहने का दस्तावेजी साक्ष्य, छात्र वीजा, वर्क वीजा,  वर्क परमिट, अस्थायी निवास की अनुमति, अस्थायी निवास पंजीकरण, आदि हो सकता है.

 

  1. निम्नलिखित देशों के नागरिकों के लिए भारत में स्थायी निवास की अनुमति या इसी तरह का अन्य दस्तावेज़: अल्जीरिया, अंगोला, अफगानिस्तान, बांग्लादेश, वियतनाम, जॉर्जिया, इराक, ईरान, चीन, उत्तर कोरिया, नेपाल, नाइजीरिया, पाकिस्तान, रवांडा, सीरिया, सोमालिया, तुर्की, चाड, श्रीलंका, इथियोपिया.